Sukanya Samriddhi Yojana के लिए कैसे खोलें ,जरूरी दस्तावेज, योग्यता ,ब्याज दर तथा टैक्स; Best Yojana 2024

Sukanya Samriddhi Yojana
Sukanya Samriddhi Yojana

Sukanya samriddhi Yojana के लिए कैसे खोलें ,जरूरी दस्तावेज, योग्यता ,ब्याज दर तथा टैक्स :सुकन्या समृद्धि योजना भारत के सभी बालिकाओं के लिए भारत सरकार द्वारा एक बहुत ही समर्थित छोटी बजट योजना है यह सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना का ही एक अहम हिस्सा है। इस योजना के लिए 10 साल से कम उम्र की लड़की के माता-पिता के द्वारा इसका लाभ लेने के लिए खाता खोला जाता है।

Sukanya Samriddhi Yojana

Sukanya Samriddhi Yojana किसी भी नामित बैंक तथा डाकघर में खोले जा सकते हैं। Sukanya Samriddhi Yojana खाते का कार्यकाल मुख्ता 21 वर्ष या 18 वर्ष की आयु के बाद की शादी होने तक इस योजना का लाभ मिलता है। इस सुकन्या समृद्धि योजना कई कर लाभों के साथ-साथ उच्च ब्याज दर के साथ सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जाती है अगर आप भी और इसके बारे में जानकारी चाहते हैं तो नीचे दिए गए पूरी आर्टिकल को जरूर पढ़ें।

सुकन्या समृद्धि योजना की जरूरी बातें(sukanya samriddhi yojana details)

ब्याज दर 8% प्रतिवर्ष (पिछले 2023 24 की तीसरी तिमाही)
निवेश अवधिखाता खोलने की तारीख से 15 वर्ष तक
Sukanya Samriddhi Yojana आयु सीमा अंतिम तिथि 21 वर्ष या जब तक लड़की की शादी 18 वर्ष की आयु के बाद नहीं हो जाती तब तक
न्यूनतम जमा राशि250 रुपया प्रति
अधिकतम जमा राशि1 वर्ष में केवल डेढ़ लाख (1.5) तक
योग्यता10 वर्ष से कम उम्र की बालिका के माता-पिता या कानूनी अभिभावक बालिका के नाम पर सुकन्या समृद्धि योजना में खाता खोलने के लिए योग्य होते हैं।
आयकर के द्वारा छूटआयकर अधिनियम 1961 की धारा 80c के अनुसार छठ के लिए पत्र (1 वर्ष में 1.5 लख रुपए तक)

Sukanya Samriddhi Yojana में ब्याज दर कितनी मिलती है ,2024(sukanya samriddhi yojana interest rate)

Sukanya Samriddhi Yojana

Sukanya Samriddhi Yojana में ब्याज दर भारत सरकार के द्वारा त्रैमासिक घोषित की जाती है पिछले वर्ष 2022-24 की तिमाही (अक्टूबर नवंबर )के लिए ब्याज दर 8% निर्धारित किया गया था।

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए योग्यता

Daily writing prompt
What are your favorite physical activities or exercises?
  • इसमें केवल लड़की के माता-पिता या कानूनी अभिभावक ही SSY का खाता खोलने के लिए मान्य है।
  • खाता खोलते समय बालिका की आयु 10 वर्ष से कम होना जरूरी है।
  • एक बालिका के नाम पर केवल एक ही खाता खोला जा सकता है।
  • एक परिवार के लिए मुख्ता केवल दो ही SSY खाते के लिए अनुमति सरकार के द्वारा दी जाती है यानी कि प्रत्येक लड़की के लिए केवल एक खाता खोला जाता हैं।
  • यदि जुड़वा या तीन लड़कियों के जन्म से पहले एक लड़की का जन्म हुआ हो या तीन लड़की का जन्म हुआ हो तो इस स्थिति में तीसरा खाता खोला जा सकता है।
  • यदि जुड़वा या तीन बेटियों के जन्म के बाद बेटी का जन्म होता है तो तीसरा SSY का खाता नहीं खोल सकते हैं

जरूरी सूचना

Sukanya Samriddhi Yojana खाते के लिए अब आधार और पैन कार्ड अनिवार्य होगा।

  • हाल ही में वित्त मंत्री द्वारा जारी किया गया सूचना के अनुसार नया SSY खाता खोलने के लिए अपना आधार नंबर या पैन कार्ड देना अनिवार्य हो गया है यदि आपको अभी तक आधार नहीं मिला है तो आपको खाता खोलने के समय आधार या नामांकन ईद के लिए नामांकन के आवेदन का प्रमाण देना होगा और खाता खोलने की तारीख से 6 महीने के भीतर आधार संख्या लेखा कार्यालय को प्रदान करना पड़ेगा।
  • यदि आपके पास पहले ही सुकन्या समृद्धि योजना का खाता है और आपने अपना आधार नंबर अभी तक जमा नहीं किया है तो आप 1 अप्रैल 2023 से 6 महीने की अवधि के भीतर जितना से जितना जल्द हो सके इसे आप जमा करना पड़ेगा। इसके अलावा यदि अपने पैन कार्ड भी जमा नहीं किया है तो खाता खोलने के समय आपको कुछ निम्नलिखित बातों को ध्यान रखना होगा जो दो महीने की अवधि के भीतर ही जमा करना होता है
  • खाते में किसी भी समय शेष राशि 50000 से अधिक
  • किसी भी वित्तीय वर्ष में खाते में सभी क्रेडिट का कुल योग 1 लाख तक।
  • खाते में 1 महीने में सभी निकासी और हस्तांतरण के कुल योग 10000 तक।
  • यदि आप 6 महीने की निश्चित अवधि के अंदर अपना आधार और पैन कार्ड जमा करने में असफल रहे तो उसके बाद आपके खाते को निष्क्रिय कर दिया जाएगा जब तक आप आधार नंबर और पैन कार्ड जमा नहीं करते तब तक।

Sukanya Samriddhi Yojana में निवेश करने के फायदे

भारत सरकार द्वारा चलाई जाने वाली बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के द्वारा शुरू किया गया है इस योजना में बहुत ही प्रकार के लाभ प्रदान किए जाते हैं जो कुछ इस प्रकार हैं —

Sukanya Samriddhi Yojana

उच्च ब्याज दर– यह भारत सरकार द्वारा पीएफ जैसी अन्य सरकारी समर्थित कर बचत योजना की तुलना में Sukanya Samriddhi Yojana रिटर्न की उच्च निश्चित दर 8% तय किया गया है।

गारंटी रिटर्न – Sukanya Samriddhi Yojana भारत के द्वारा चलाई जाने वाली योजना है इसलिए इसका गारंटी तय है।

कर लाभ – Sukanya Samriddhi Yojana सरकार द्वारा चलाई जानी एक योजना है जिसमें धारा 80c के तहत रुपए तक कर कटौती का लाभ प्रदान किया जाता है जिसमें सालाना आप 1.5 लाख तक जमा कर सकते हैं।

लचीला निवेश – अगर कोई भी व्यक्ति न्यूनतम 2050 रुपए से और अधिकतम 1 साल में डेढ़ लाख रुपए तक निवेश कर सकता है और इसमें किसी भी प्रकार की टैक्स नहीं देना पड़ता है।

कंपाउंडिंग का लाभ – Sukanya Samriddhi Yojana एक बहुत ही बेहतरीन दीर्घकालिक निवेश योजना है क्योंकि यह वार्षिक कंपाउंडिंग का लाभ प्रदान करती है इसलिए छोटे निवेश से भी लंबी अवधि में अधिक रिटर्न मिल जाता है।

सुविधाजनक लेनदेन – Sukanya Samriddhi Yojana द्वारा संचालित करने वाले माता-पिता या अभिभावक के स्थानांतरण के मामले में सुकन्या समृद्धि योजना खाते को देश के एक हिस्से से दूसरे हिस्से तक स्वतंत्र रूप से स्थानांतर किया जा सकता है।

Sukanya Samriddhi Yojana की अधिकतम जमा सीमा

सुकन्या समृद्धि योजना में न्यूनतम वार्षिक योगदान 250 रुपए और अधिकतम योगदान 1 वर्ष में डेढ़ लाख रुपए तक होता है। और आपके खाता खोलने की तारीख से 15 साल तक हर साल कम से कम न्यूनतम राशि निवेश करनी होगी इसके बाद खाते पर परिपक्वता तक ब्याज मिलता रहेगा।

Sukanya Samriddhi Yojana के अंतिम कार्यकाल

डाकघर सुकन्या समृद्धि योजना का कार्यकाल बालिका के 21 वर्ष की आयु या 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद उसके शादी के बराबर है। लेकिन योगदान केवल 15 वर्षों तक करना पड़ेगा। इसके बाद सुकन्या समृद्धि योजना खाते पर अधिकतम ब्याज मिलता रहेगा भले ही इसमें कोई जमा न किया जाए।

Sukanya Samriddhi Yojana की कुछ प्रमुख विशेषताएं

सुकन्या समृद्धि योजना के कुछ प्रमुख विशेषताएं हैं जो इस प्रकार हैं––

  • यदि कोई सुकन्या समृद्धि योजना खाताधारक नियंत्रण रुपए जमा करने में असमर्थ है। एक वित्तीय वर्ष में 250 रुपए उसके खाते को डिफॉल्ट खाता कहा जाएगा और परिपक्वता तिथि तक यह डिफॉल्ट खाता योजना में लागू ब्याज दर पर अर्जित करेगा। लेकिन डिफॉल्ट खाते को कम से कम रुपए का भुगतान करके खाता खोलने के 15 वर्ष पूरे होने से पहले ही पुनर्जीवित किया जा सकता है 250 प्लस प्रत्येक डिफॉल्ट के लिए ₹50 जमा करनी पड़ती है।
  • 18 वर्ष की आयु के बाद एक बालिका अपना खाता स्वयं संचालित कर सकती है एक बार जब वह 18 वर्ष की हो जाती है तो वह डाकघर या बैंक जाकर खाता है मैं अपने सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद सुकन्या समृद्धि योजना के लिए पात्र हो जाएगी।
  • जब लड़की की उम्र 18 वर्ष से अधिक हो जाए या 10 भी कक्षा उत्तीर्ण पास कर ले तो उच्च शिक्षा से संबंधित खर्च जैसे फीस या अन्य खर्चो को पूरा करने के लिए पिछले 20 वर्ष के अंत में उपलब्ध शेष राशि का 50% तक अपनी काशी किया जा सकता है। इसके लिए आप निर्दिष्ट सीमा और शुल्क की वास्तविक आवश्यकता के अधीन एक वर्ष में अधिकतम एक निकासी एक मुफ्त या किस्त में अधिकतम 5 वर्ष के लिए किया जा सकता है।

अगर Sukanya Samriddhi Yojana खाते का समय से पहले बंद हो जाए तो

विवाह व्यय के प्रयोजन के लिए लड़की द्वारा 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर ही समय पूर्व समापन किया जा सकता है हालांकि कुछ विशेष स्थिति में जिनके तहत खाता बंद किया जा सकता है। और फिर पैसे निकल जा सकता है।

खाताधारक की मृत्यु के कारण सुकन्या समृद्धि योजना खाता बंद करना

यदि डिपॉजिटरी द्वारा खाते को आगे बढ़ाने में समर्थ नहीं होता है तो केंद्र सरकार से किसी भी प्रकार का निर्देश मिलता है तो सुकन्या समृद्धि खाते को समय से पहले ही बंद किया जा सकता है यदि खाते में योगदान के कारण जमा करता के किसी भी प्रकार से वित्तीय तनाव हो रहा हो तो उसे बंद करने की प्रक्रिया भी किया जा सकता है इसके अलावा खाते को बंद करने और निपटने की प्रक्रिया के लिए सक्षम अधिकारियों से उचित अनुमति की प्राप्ति की जानी चाहिए।

इस बात का जरूर ध्यान रखें की सुकन्या समृद्धि योजना के खाते को अगर बंद करना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ गंभीर मामले जैसे कि जीवन घातक बीमारियां या चिकित्सा आपात स्थिति की मामले में बंद किया जा सकता है।

Sukanya Samriddhi Yojana में निवेश कैसे करें(sukanya samriddhi yojana post office)

अगर आप सुकन्या समृद्धि योजना में अपने नजदीकी डाकघर या भाग लेने वाले सभी सार्वजनिक या निजी बैंकों में जाकर आप निवेश कर सकते हैं आपको आवश्यक फॉर्म या चेक ड्राफ्ट के द्वारा प्रारंभिक जमा राशि के साथ पासपोर्ट आधार कार्ड पैन कार्ड जैसे केवाईसी के दस्तावेज जमा करना होगा।

निवेशकों को सुकन्या समृद्धि योजना में आवेदन पत्र भरना पड़ेगा। जिसे आप नजदीकी डाकिया निजी बैंक में जाकर के फार्म प्राप्त कर सकते हैं। अगर आप चाहते हैं कि ऑनलाइन डाउनलोड करें तो उसके लिए कुछ निम्नलिखित निश्चित मापदंड–

  • भारतीय रिजर्व बैंक की वेबसाइट से
  • इंडिया पोस्ट की वेबसाइट से
  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक जैसे एसबीआई पीएनबी और भी निजी तथा व्यक्तिगत वेबसाइट से
  • भाग लेने वाले निजी क्षेत्र के बैंकों की वेबसाइट से जैसे कि आईसीसी एक्सिस बैंक एचडीएफसी बैंक।

सुकन्या समृद्धि योजना एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करने के लिए बहुत सारे स्रोत हैं सभी जगह से डाउनलोड जाता था मिले हुए फॉर्म समान ही होगी आप उसका उपयोग कर सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana में भाग लेने वाले बैंक

1एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank)
2एक्सिस बैंक (AXIS Bank)
3पंजाब नेशनल बैंक (Panjab National Bank)
4केनरा बैंक
5यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
6आईसीआई बैंक
7सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
8आईडीबीआई बैंक
9इंडियन बैंक
10स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
11बैंक ऑफ महाराष्ट्र
12पंजाब और सिंध बैंक
13इंडियन ओवरसीज बैंक
14यूको बैंक
15बैंक ऑफ इंडिया
16बैंक ऑफ बड़ौदा
17डाक घर

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए फॉर्म कैसे भरें

सुकन्या समृद्धि योजना के आवेदन के लिए फार्म में बालिका के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के आवश्यकता होती है। जिनके नाम पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत निवेश किया जाता है। बालिका की ओर से अकाउंट चालू करने तथा निवेश करने वाले माता-पिता के अभिभावक की भी जानकारी आवश्यकता होती है। सुकन्या समृद्धि योजना में आवेदन फॉर्म भरने के लिए कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां जो इस प्रकार हैं––

  • बालिका का नाम
  • अकाउंट खोलने वाले माता-पिता का नाम
  • डिपॉजिट राशि
  • चेक किया डीटी नंबर और तारीख(शुरू की डिपॉजिट राशि के लिए उपयोग किया जाता है)
  • बालिका की जन्म तिथि
  • प्रायमरी अकाउंट होल्डर के जन्म प्रमाण पत्र की details (प्रमाण पत्र नंबर जारी करने के लिए तारीख)
  • माता-पिता या अभिभावक पहचान पत्र (ड्राइवरी लाइसेंस और आधार कार्ड)
  • करंट और परमानेंट एड्रेस (अभिभावक के आईडी दस्तावेज के अनुसार)
  • किसी अन्य केवाईसी दस्तावेज की जानकारी(पैन कार्ड ,वोटर आईडी कार्ड)

फार्म में ऊपर दी गई फॉर्म भरने की जानकारी फॉर्म भरने के बाद सभी दस्तावेज की कॉपी के साथ फॉर्म को पोस्ट ऑफिस या बैंक में जमा करना जरूरी होता है।

Sukanya Samriddhi Yojana के तहत लागू हुआ टैक्स

अगर टैक्स की बात किया जाए तो सुकन्या समृद्धि योजना में निवेशकों को निवेश EEE किसी भी प्रकार की टैक्स नहीं देना होता है। इसका मतलब यह है कि निवेश किया गया पैसा और ब्याज के साथ-साथ मैच्योरिटी राशि पर भी टैक्स नहीं भरना पड़ता है। सुकन्या समृद्धि योजना के मौजूदा टैक्स नियमों के अनुसार इनकम टैक्स अधिनियम 1961 की धारा 80c के तहत निवेशकों की की गई निवेश मूल राशि पर सालाना इनकम टैक्स रिटर्न में डेढ़ लाख रुपए तक की इनकम टैक्स कटौती का लाभ मिलता है।

Sukanya Samriddhi Yojana अकाउंट का ट्रांसफर

सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट देश पर में कहीं पर भी आप आसानी से आदान-प्रदान कर सकते हैं मौजूदा कानून के अनुसार आप मौजूद पोस्ट ऑफिस या बैंक से दूसरे पोस्ट ऑफिस या बैंक में आसानी से स्थानांतरित या ट्रांसफर कर सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस से पहले अपने से सुकन्या समृद्धि योजना के अकाउंट को ट्रांसफर करने के लिए आपको ट्रांसफर रिक्वेस्ट फॉर्म भरना पड़ता है और उसे इंडिया पोस्ट ऑफिस के पोस्ट मास्टर के पास जमा करना अनिवार्य होता है जहां वर्तमान में आपका अकाउंट चालू होता है। और अगर आप एक बैंक ब्रांच से दूसरी किसी ब्रांच में डिपॉजिट अकाउंट ट्रांसफर करना चाहते हैं तो इसी तहत के ट्रांसफर फॉर्म जमा करना होता है जो ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों प्रकार से उपलब्ध होता है।

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए कैलकुलेटर

किसी भी निवेश का लाभ केवल इस आधार पर निर्धारित किया जाता है कि समय के साथ-साथ निवेश में कितनी ज्यादा बढ़ोतरी हुआ है अगर बात किया जाए तो सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करके आप ज्यादा मुनाफा कैसे प्राप्त कर सकते हैं तो चलिए देखते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana

जैसे कि उदाहरण के लिए मान लेते हैं कि बालिका का जन्म 2020 में हुआ है और माता-पिता इस वर्ष उसके नाम पर सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट शुरू करते हैं यह अकाउंट 21 साल बाद परिपूर्ण होगा जब बालिका को कल मैच्योरिटी राशि प्राप्त होगी जो इस प्रकार है।

  • वार्षिक निवेश = 1 लाख रुपए
  • निवेश की अवधि = 15 वर्ष
  • 15 वर्ष के अंत तक निवेश की गई कुल राशि = 15 लख रुपए
  • 1 साल के लिए ब्याज दर = 7.6%
  • 21 साल के अंत में ब्याज = 3,10,454.12 रुपए
  • 21 साल के अंत में मेच्योरिटी वैल्यू = 43,95,380.96 रूपए
Financial YearDeposit Amount (in Rs.)Interest Earned (in Rs.)Year-end Balance (in Rs.)
11,00,0007600107600
21,00,00015777.6223377.6
31,00,00024576.70347954.30
41,00,00034044.53481998.82
51,00,00044231.91626230.73
61,00,00055193.54781424.27
71,00,00066988.24948412.52
81,00,00079679.351128091.87
91,00,00093334.981321426.85
101,00,000108028.441529455.29
111,00,000123838.601753293.89
121,00,000140850.341994144.23
131,00,000159154.962253299.19
141,00,000178850.742532149.93
151,00,000200043.392832193.32
160215246.693047440.01
170231605.443279045.45
180249207.453528252.91
190268147.223796400.13
200288526.414084926.54
210310454.424395380.96

Sukanya Samriddhi Yojana Interest Rates: Historical

Time PeriodSSY Interest Rate (% annually)
July to September 2023 (Q2 FY 2023-24)8
April to June 2023 (Q1 FY 2023-24)8
January to March 2023 (Q4 FY 2022-23)7.6
October to December 2022 (Q3 FY 2022-23)7.6
Jul to Sep 2022 (Q2 FY 2022-23)7.6
Apr to Jun 2022 (Q1 FY 2022-23)7.6
Jan to Mar 2022 (Q4 FY 2021-22)7.6
Oct to Dec 2021 (Q3 FY 2021-22)7.6
Jul to Sep 2021 (Q2 FY 2021-22)7.6
Apr to Jun 2021 (Q1 FY 2021-22)7.6
Jan to March 2021 (Q4 FY 2020-21)7.6
Oct to Dec 2020 (Q3 FY 2020-21)7.6
Jul to Sep 2020 (Q2 FY 2020-21)7.6
Apr to Jun 2020 (Q1 FY 2020-21)7.6
Jan to March (Q4 FY 2019-20)8.4
Oct to Dec 2019 (Q3 FY 2019-20)8.4
Jul to Sep 2019 (Q2 FY 2019-20)8.4
Apr to Jun 2019 (Q1 FY 2019-20)8.5
Jan to March 2019 (Q4 FY 2018-19)8.5
Oct to Dec 2018 (Q3 FY 2018-19)8.5
Jul to Sep 2018 (Q2 FY 2018-19)8.1
Apr to Jun 2018 (Q1 FY 2018-19)8.1
Jan to March 2018 (Q4 FY 2017-18)8.1
Oct to Dec 2017 (Q3 FY 2017-18)8.3
Jul to Sep 2017 (Q2 FY 2017-18)8.3
Apr to Jun 2017 (Q1 FY 2017-18)8.4

Sukanya Samriddhi Yojana से संबंधित प्रश्न(FAQs)

प्रश्न:– क्या मैं सुकन्या समृद्धि योजना में अकाउंट में शेष राशि पर लोन ले सकता हूं।

उत्तर: – नहीं सुकन्या समृद्धि योजना के अकाउंट की राशि पर लोन की सुविधा नहीं दिया जाता है आप केवल पीएफ पर लोन का विकल्प उठा सकते हैं।

प्रश्न :– क्या हम सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट को समय से पहले बंद कर सकते हैं?

उत्तर:– हां मेडिकल इमरजेंसी खाता धारक की अचानक मृत्यु जैसे कुछ मामलों में सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट को समय से पहले बंद किया जाता है। लेकिन इस तरह अकाउंट बंद करने की अनुमति देने का फैसला कैसे के ऊपर निर्भर करता है कि किस प्रकार की कैसे हैं।

प्रश्न:– अगर मैं और मेरी बेटी किसी अन्य देश में चल जाए तो क्या मैं सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट में निवेश की जारी रख सकता हूं।

उत्तर:–अगर बालिका अपनी भारतीय नागरिकता छोड़ देती है तो सुकन्या समृद्धि योजना खाता बंद करना पड़ेगा।

प्रश्न:– क्या मैं सुकन्या समृद्धि योजना में ऑनलाइन माध्यम से निवेश कर सकता हूं।

उत्तर:– हां लेकिन सुकन्या समृद्धि योजना का फॉर्म ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते हैं हालांकि आवेदन पत्र और निवेशक नजदीकी डाकघर या सार्वजनिक निजी बैंक की ब्रांच में जाकर जमा करना पड़ेगा।

Related Post

Leave a Reply