diwali 2022~rangoli for diwali~happy diwali images~ Best dipawali per nibandh
diwali 2022~rangoli for diwali~happy diwali images~ Best dipawali per nibandh

हम जानते हैं कि Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai मैं बहुत सारे लोग इस पर्व का आने का इंतजार करते रहते हैं दीपावली पर्व एक हिंदू धर्म का सबसे उच्चतम पर वह में से एक माना जाता है।

इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  में बहुत से लोग अच्छे-अच्छे कीमती सामान वगैरह खरीदते हैं और इसने मां लक्ष्मी श्री गणेश सरस्वती तथा राम लक्ष्मण के 14 वर्ष का वनवास खत्म होने के बाद अयोध्या में दीपावली मनाई गई थी और इसमें इन्हीं लोगों की पूजा भी की जाती है।

diwali 2022~rangoli for diwali~happy diwali images~ Best dipawali per nibandh
Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai 2023~rangoli for diwali~happy diwali images~ Best dipawali per nibandh

यह Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  मुख्य रूप से हिंदुओं का पर्व माना जाता है जिसमें दीपक जलाया जाता है और माना जाता है कि अंधेरों को प्रकाश की विजय हुई है जिसका अर्थ है कि हम अपने किसी विकट परिस्थिति से उभर चुके हैं और साथ ही इसमें पटाखे घर में रंगोलियां और पूरी तरह से घर को सजाया जाता है और बहुत ही धूमधाम के साथ मां लक्ष्मी श्री गणेश और भी बहुत सारे देवताओं की पूजा की जाती हैं।

diwali rangoli

इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai मैं बहुत सारे लोग अपने अपने घरों को पेंट कर आते हैं अपने घरों को बहुत ही अच्छे से सजाते हैं और साथ ही बहुत सारे लोग अपने दरवाजे पर दीपावली के दिन रंगोलियां बनाते हैं भारत की संस्कृति में अलग-अलग प्रकार की रंगोलियां बनाई जाती है।

diwali 2022~rangoli for diwali~happy diwali images~ Best dipawali per nibandh

दीपावली के दिन घर की महिला सदस्य अपने घर के सबसे पहली दरवाजे पर एक बहुत ही सुंदर रंगोली बनाती है यह रंगोली हर राज्य में अलग-अलग तरीकों से बनाई जाती है और इसके बहुत सारे प्रकार हैं जो इस प्रकार हैं

rangoli for diwali–Click here 

rangoli for diwali

इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  में सभी लोग अपने अपने घरों को बहुत ही बेहतर तरीके से सजाते हैं और बहुत ही अच्छे अच्छे रंगोली अपनी दरवाजे और दीवार पर बनाते हैं जो कि बहुत ही देखने में सुंदर लगता है।

अगर आप भी चाहते हैं कि इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  मैं मैं भी अलग-अलग प्रकार की और बहुत ही सुंदर सुंदर रंगोलियां बनाऊं तो इसके लिए मैं आपको नीचे लिंग प्रोवाइड कर देता हूं जहां से आप अच्छे अच्छे रंगोली ओके चित्र देख कर के आप उसे बना सकते हैं

rangoli for diwali –Click here 

Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai

इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai को अच्छा से मनाने के लिए लोग अपनी पूंजी का एक मोटी रकम इस त्यौहार पर खर्चा करते हैं। इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  मैं बहुत सारे लोग अपने घर की पेंटिंग करेंगे बहुत सारे लोग अच्छे-अच्छे गोल्ड में इन्वेस्ट करेंगे कुछ लोग कार्य खरीदते हैं

दीपावली के त्यौहार में लोग अपने घरों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देते हैं और साथ ही पूजा-पाठ के लिए भी अलग-अलग की तरह की सजावट अपने घर को करते हैं।

इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  में लोग पहले से ही निश्चित करके बैठे होंगे कि इस बार की मेरी दीपावली कैसे बनेगी और पूरी तैयारी के साथ मां लक्ष्मी सरस्वती और श्री गणेश की पूजा की जाएगी।

दीपावली क्यों मनाई जाती है हमारी संस्कृति के अनुसार कहा जाता है कि जब श्री रामचंद्र ने 14 वर्ष बीतने के बादजब रावण को मार कर श्री रामचंद्र जी अपने अयोध्या नगरी पहुंचे थे तो अयोध्या नगरी वालों ने प्रभु के आने की खुशी में पुरी अयोध्या को दीपक से सजाया गया था। और यह भी कहा जाता हैं कि

उस रात के समय दिन के जैसे दिखाई दे रहे थे। और फ़िर हमारे प्रभु श्री रामचंद्र जी स्वागत बहुत ही धूम धाम से किया गया था। यही कारण है कि हम हर दीपावाली में दीपक जलाएं जाते हैं ताकि अंधेरे पर प्रकाश की जीत हों।

और जानने के लिए क्लिक करें

 Happy diwali images

इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  में बहुत सारे लोग अच्छे अच्छे फोटो अपने दोस्तों को भेज कर बधाई देने की कोशिश करते हैं।

बहुत सारे लोग इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  में colour फुल image की तलास करते हैं ताकि जब वह अपनी फोटो को किसी दूसरे को भेजे तो लोग पसन्द करें और शेयर करें

तो मैं आप सभी के लिए इसे ही Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai की सबसे ज्यादा सुंदर से सुंदर फोटो लाया हुं उसके लिए आप नीचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करें।

Happy diwali images 🖇️

dipawali kab hai

इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  में पूरे देश भर में Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  – 12 नवंबर 2023  में मनाई जाएगी। लक्ष्मी पूजा मुहूर्त – शाम 06.11 बजे से लेकर रात को 8.15 बजे तक रहेगा।

अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर समाप्ति हो जायेगी। यह पूजा 10 नवंबर धनतेरस से शुरु होकर 15 नवंबर भाई दूज पर समाप्त होगा।

और जानने के लिए क्लिक करें 

dipawali kitne tarikh ko hai

अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर समाप्ति हो जायेगी। यह पूजा 10 नवंबर धनतेरस से शुरु होकर 15 नवंबर भाई दूज पर समाप्त होगा।

Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai date

2023 की diwali बीत चुका है और यह 2023 की diwali के लिए है।

अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर समाप्ति हो जायेगी। यह पूजा 10 नवंबर धनतेरस से शुरु होकर 15 नवंबर भाई दूज पर समाप्त होगा।

dipawali per nibandh

दोस्तों हमें यह पता है कि हिंदू धर्म के सबसे महत्वपूर्ण पर्व में से दिवाली एक सबसे उत्तम परवाह है जिसे भारत के कोने कोने में दिवालिया मनाई जाती है इसमें बहुत सारे लोग अपने घर को सजाते हैं।

दिवाली के दिन बहुत सारे लोग नए नए कपड़े पहनते हैं बहुत सारे लोग मांगे मांगे चीजें खरीदते हैं इसमें धनतेरस के दिन शुभ मुहूर्त पर लोक सामान को खरीदते हैं और सही समय पर संध्याकाल में मां लक्ष्मी तथा श्री गणेश और सरस्वती और भी बहुत देवताओं की पूजा अर्चना करते हैं। जब अपने वनवास काल के 14 वर्ष पूरा करने के बाद अपने राज्य अयोध्या लौटे थे।

तब अयोध्या में रहने वाले सभी नगर वासियों ने भगवान रामचंद्र की आने की खुशी में पूरे नगर को दीपक से सजा दिया था और उस दिन पूरी अयोध्या में रात दिन की तरह महसूस हो रहे थे। और जब आए श्री रामचंद्र जी और माता सीता तथा लक्ष्मण का स्वागत बहुत ही धूमधाम से दीपक से स्वागत किया गया।

इसी आस्था को देखते हुए हम आज हर साल दीपावली के रूप में इस पर्व को मनाते हैं। और यह त्यौहार आप केवल भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में भी मनाई जाती है।

भारतीय मान्यता के अनुसार, महालक्ष्मी सरस्वती और श्री गणेश की पूजा उपासना की जाती है। और साथ यह भी मान्यता है कि हमारे मर्यादा पुरुषोत्तम श्री रामचंद्र जी

2023 mein dipawali kab hai

अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर समाप्ति हो जायेगी। यह पूजा 10 नवंबर धनतेरस से शुरु होकर 15 नवंबर भाई दूज पर समाप्त होगा।

dipawali kitni tarikh ki hai

अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर समाप्ति हो जायेगी। यह पूजा 10 नवंबर धनतेरस से शुरु होकर 15 नवंबर भाई दूज पर समाप्त होगा

dev diwali 2022

हम जानते हैं कि दीपावाली हिंदू धर्म का एक सबसे पवित्र पर्व है इसमें सभी पूजा मुहूर्त समय पर किया जाता है तो dev Diwali 2023 में 26 नवंबर 2023 को मनाया जाएगा। देव दिवाली भी बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता हैं।

happy diwali 2022

हम जानते हैं कि दीपावाली हिंदू धर्म का एक सबसे पवित्र पर्व है इसमें सभी पूजा मुहूर्त समय पर किया जाता है।

अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर समाप्ति हो जायेगी। यह पूजा 10 नवंबर धनतेरस से शुरु होकर 15 नवंबर भाई दूज पर समाप्त होगा।

rangoli designs for diwali 2022

अगर आप भी चाहते हैं कि इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  मैं मैं भी अलग-अलग प्रकार की और बहुत ही सुंदर सुंदर रंगोलियां बनाऊं तो इसके लिए मैं आपको नीचे लिंग प्रोवाइड कर देता हूं जहां से आप अच्छे अच्छे रंगोली ओके चित्र देख कर के आप उसे बना सकते हैं

rangoli design for diwali 2022

अगर आप भी चाहते हैं कि इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  मैं मैं भी अलग-अलग प्रकार की और बहुत ही सुंदर सुंदर रंगोलियां बनाऊं तो इसके लिए मैं आपको नीचे लिंग प्रोवाइड कर देता हूं जहां से आप अच्छे अच्छे रंगोली ओके चित्र देख कर के आप उसे बना सकते हैं।

इस Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai  मैं बहुत सारे लोग अपने अपने घरों को पेंट कर आते हैं अपने घरों को बहुत ही अच्छे से सजाते हैं और साथ ही बहुत सारे लोग अपने दरवाजे पर दीपावली के दिन रंगोलियां बनाते हैं भारत की संस्कृति में अलग-अलग प्रकार की रंगोलियां बनाई जाती है।

रंगोली design के लिए क्लिक करें

diwali 2022 date delhi

हिंदू धर्म में देवली Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai को बहुत ही महत्व दिया जाता हैं। और दीपावली के दिन श्री गणेश और मां लक्ष्मी सरस्वती जी की बड़े ही श्रद्धा भाव से किया जाता हैं। और

यह हमारे, हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को दिवाली के इस पर्व को मनाया जाता हैं है और यह दिवाली हर जगह पर अलग अलग समय पर मनाया जाता हैं।

दिल्ली में दिवाली का पर्व हिंदू महा पर्व के अनुसार अमावस्या तिथि 12 नवंबर 2023 को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से चालू होगा। और अगले दिन 13 नवबर को 02 बजकर 56 मिनट पर समाप्ति हो जायेगी।

दीपावाली के दिन मां लक्ष्मी का पूजन प्रदोष काल में करना अति उत्तम माना गया है। 2023 में दिवाली 12 नवंबर को मनाना चाहिए। और 13 नवंबर को यह प्रदोष काल समाप्त होगा।

  • दिवाली 2024 तारीख – 31 अक्टूबर
  • दिवाली 2025 तारीख – 21 अक्टूबर
  • दिवाली 2026 तारीख – 06 नवंबर
  • दिवाली 2027 तारीख – 29 अक्टूबर
  • दिवाली 2028 तारीख – 17 अक्टूबर  माह में मनाया जाएगा।

rangoli for diwali 2023

Dipawali Kitne Tarikh Ka Hai के इस त्योहार में लोग, रंग, चावल के पाउडर, और फूलों के पंखुड़ियों के जरिए, रंगोली बनाते हैं । कुछ लोग तो रंगोली में स्वस्तिक, कमल की फूल, या फिर वे लक्ष्मी जी के पद चिन्ह बनाते हैं।

अगर आप दीपक वाली रंगोली बनाना चाहते हैं तो आपको एक सबसे अच्छा तरीका निकाला है उससे आप आसानी से बना सकते हैं।

सबसे पहले आपको चौक की सहायता से जहां आप अपना रंगोली बनाना चाहते हों वहा पर खींच लीजिए। और फ़िर छोटे छोटे फूल बना ले।या फिर एक बड़ा सा सर्किल बनाके उसमे दीपक को बना लीजिए। और फिर आप अपने पसन्द की रंगो से सजा लीजिए।

diwali 2022 date in india calendar

हर साल दिवाली का बेसब्री से इंतजार कर रहे होते हैं। दिवाली 2023 इस बार हिंदू पंचांग के अनुसार 12 नवंबर रविवार को मनाना तय हुआ है । और यह अमावस्या तिथि 12 नवंबर 2023 को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से चालू होगा ।

choti diwali 2022

यह सब हमें पता ही होगा कि छोटी दिवाली दिवाली से एक दिन पहले मनाई जाती है। और इसे हम यह भी कर सकते हैं कि धनतेरस के एक दिन बाद जो दिवाली मनाई जाती है उसे हम छोटी दिवाली कहते हैं।

हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष के चतुर्थी तिथि को छोटी दिवाली मनाई जाती है। और छोटी दिवाली के दिन भी दीपक जलाई जाती है लेकिन कम संख्या में चलाई जाती है। और बहुत जगह इसे यम दीपावली भी कहा जाता है। और इसमें यम देवता की पूजा करना एक अत्यंत ही मंगलकारी माना जाता है।

अब हम आपको एक छोटी दिवाली की परंपरा के बारे में बताते हैं हमने देखा होगा कि घर के पीछे एक दीपक जलाई जाती है। यम दिवाली जिसे हम छोटी दिवाली भी कहते हैं। के दिन अपने घर के पीछे एक दीपक जलाना बहुत जगह की परंपरा है और बहुत जगह यह सब किया भी जाता है।

diwali 2023 date uttar pradesh

दोस्तों हमें यह सब पता है कि दिवाली हिंदू धर्म के 1 सबसे प्रमुख पर्व में से एक है और इसे यूपी और बिहार में बहुत ही अच्छे से मनाया जाता है सभी राज्यों में अलग-अलग समय पर दिवाली मनाई जाती है।

दिवाली के दिन बहुत सारे लोगों का सवाल होता है कि हमारे उत्तर प्रदेश में दिवाली की टाइम क्या है तो मैं आप लोग इसमें बता देना चाहता हूं कि यूपी और बिहार में अभी दिवाली का टाइम है। संध्याकाल 5:00 से 40 मिनट से लेकर 7 बज कर 36 मिनट पर पूजा करने की एक बहुत ही उत्तम मुहूर्त है।

dev diwali 2023 date

देव दिवाली मुख्यता बनारसी और उत्तर प्रदेश से मनाई जाने वाली एक महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है। हमारी मान्यता के अनुसार कहा जाता है कि इस तिथि को भगवान शिव जी ने एक राक्षस त्रिपुरासुर का वध करके देवताओं के इस राक्षस के आतंक से तथा भय से मुक्त किया था।

इसी बिजाई की खुशी में, देवलोक से सभी देवी और देवगन हमारी पवित्र नगरी वाराणसी में मनाने के लिए इसी दिन पधार ते हैं।

choti diwali 20223 date

छोटी दिवाली दिवाली से एक दिन पहले मनाई जाती है। और इसे हम यह भी कर सकते हैं कि धनतेरस के एक दिन बाद जो दिवाली मनाई जाती है उसे हम छोटी दिवाली कहते हैं। और छोटी दिवाली 11 नवंबर 2023 को मनाया जाता हैं।

when is diwali 2023

दिवाली 2023 इस बार हिंदू पंचांग के अनुसार 12 नवंबर रविवार को मनाना तय हुआ है । और यह अमावस्या तिथि 12 नवंबर 2023 को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से चालू होगा

5 days of diwali 2023

दिवाली के सभी 5 दिनों के बारे जानकारी होनी चाहिए।

  • 10 नवंबर 2023 – शुक्रवार– धनतेरस
  • 11 नवंबर 2023 – शनिवार – छोटी दिवाली
  • 12 नवंबर 2023 – रविवार – दिवाली
  • 13 नवंबर 2023 – सोमवार – गोवर्धन पूजा
  • 14 नवंबर 2023 – मंगलवार – भैया दूज

chhoti diwali 2023

हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष के चतुर्थी तिथि को छोटी दिवाली मनाई जाती है। और छोटी दिवाली के दिन भी दीपक जलाई जाती है लेकिन कम संख्या में चलाई जाती है। और बहुत जगह इसे यम दीपावली भी कहा जाता है। और इसमें यम देवता की पूजा करना एक अत्यंत ही मंगलकारी माना जाता है।

अब हम आपको एक छोटी दिवाली की परंपरा के बारे में बताते हैं हमने देखा होगा कि घर के पीछे एक दीपक जलाई जाती है। यम दिवाली जिसे हम छोटी दिवाली भी कहते हैं। के दिन अपने घर के पीछे एक दीपक जलाना बहुत जगह की परंपरा है और बहुत जगह यह सब किया भी जाता है।

diwali 2023 date india

भारतीय लोग की सबसे पसंदीदा पर्व दीवाली है और यह अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर समाप्ति हो जायेगी। यह पूजा 10 नवंबर धनतेरस से शुरु होकर 15 नवंबर भाई दूज पर समाप्त होगा।

diwali 2023 date rajasthan

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है। और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 12 नवंबर रविवार को मनाया जाएगा।

  1. लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।
  2. पूजन की अवधि – 1 घंटे 55 मिनट ,केवल
  3. प्रदोष काल – 17:34 से 20:10 तक
  4. वृषभ काल – 18:10 – से 20 :06 तक ।

diwali 2023 date maharashtra

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है। और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 12 नवंबर रविवार को मनाया जाएगा।

  • लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।
  • पूजन की अवधि – 1 घंटे 55 मिनट ,केवल
  • प्रदोष काल – 17:34 से 20:10 तक
  • वृषभ काल – 18:10 – से 20 :06 तक ।

badi diwali 2023

dussehra diwali 2023

diwali 2023 wishes

diwali 2023 images

diwali 2023 date gujarat

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है। और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 12 नवंबर रविवार को मनाया जाएगा।

लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।

पूजन की अवधि – 1 घंटे 55 मिनट ,केवल

प्रदोष काल – 17:34 से 20:10 तक

वृषभ काल – 18:10 – से 20 :06 तक ।

diwali 2023 kab hai

diwali 2023 date bihar

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है। और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 12 नवंबर रविवार को मनाया जाएगा।

लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।

पूजन की अवधि – 1 घंटे 55 मिनट ,केवल

प्रदोष काल – 17:34 से 20:10 तक

वृषभ काल – 18:10 – से 20 :06 तक ।

happy diwali 2023 images

diwali 2023 date tamil nadu

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है। और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 12 नवंबर रविवार को मनाया जाएगा।

 

लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।

पूजन की अवधि – 1 घंटे 55 मिनट ,केवल

प्रदोष काल – 17:34 से 20:10 तक

वृषभ काल – 18:10 – से 20 :06 तक ।

diwali 2023 date punjab

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है। और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 12 नवंबर रविवार को मनाया जाएगा।

लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।

पूजन की अवधि – 1 घंटे 55 मिनट ,केवल

प्रदोष काल – 17:34 से 20:10 तक

वृषभ काल – 18:10 – से 20 :06 तक ।

happy choti diwali 2023

diwali 2023 dhanteras

dhanteras diwali 2023 date

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है।  धनतेरस और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 11 नवंबर शनिवार को मनाया जाएगा।

easy rangoli designs for diwali 2023

diwali 2023 date mumbai

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है। और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 12 नवंबर रविवार को मनाया जाएगा।

लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।

पूजन की अवधि – 1 घंटे 55 मिनट ,केवल

प्रदोष काल – 17:34 से 20:10 तक

वृषभ काल – 18:10 – से 20 :06 तक ।

diwali 2023 date kolkata

दिवाली हिंदू धर्म के सबसे प्रमुख और सबसे बड़ा त्योहार में से एक है। और यह सभी राज्य में बड़ी ही धूम धाम से मनाया जाता हैं और सभी जगह पूजा के समय अलग होते हैं और हमारे राजस्थान में इस बार 2023 में 12 नवंबर रविवार को मनाया जाएगा।

लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।

पूजन की अवधि – 1 घंटे 55 मिनट ,केवल

प्रदोष काल – 17:34 से 20:10 तक

वृषभ काल – 18:10 – से 20 :06 तक ।

date of diwali 2023

हिंदू धर्म के कैलेंडर के अनुसार 2023के कार्तिक मास में अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर मनाया जाएगा।

ayodhya diwali 2023

हमें पता है कि अयोध्या श्री रामचंद्र जी की जन्म भूमि हैं। और वहा बाकी जगहों से सबसे ज्यादा मनाई जाने वाली त्योहार में से एक है।

अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर मनाया जाएगा।

diwali 2023 date in india

यह 2023 दीवाली कार्तिक मास में अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट पर मनाया जाएगा।

diwali 2023 puja time

हिंदू पंचांग के अनुसार तय किया गया है कि इस दीवाली 2023 में लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त – शाम 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजाकर 06 मिनट तक।

new year diwali 2023

हमें new year पर दीवाली कार्तिक मास में अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट को मनाया जाएगा। लेकिन लोगों ने अपनें पूजा की तैयारी एक महीने पूर्व में कर देते है

diwali 2023 date andhra pradesh

कार्तिक मास में अमावस्या तिथि 12 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट से प्रारंभ होगी । और 13 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 56 मिनट

diwali 2023 puja muhurat

  • badi diwali 2023 date
  • diwali 2023 muhurat
  • happy diwali 2023 wishes
  • diwali 2023 date ahmedabad
  • diwali 2023 date madhya pradesh
  • diwali 2023 date chennai
  • diwali 2023 photo
  • rangoli designs for
  • diwali 2023 easy
  • rangoli designs for diwali 2022 unique
  • diwali 2023 date odisha
  • diwali 2023 wishes images
  • diwali 2023 date assam
  • diwali 2023 date karnataka
  • dev diwali 2023 date gujarat
  • diwali 2023 mein kab hai
  • diwali 2023 date calendar
  • padwa diwali 2023
  • diwali 2023 date haryana
  • diwali 2023 date hyderabad

Related Post

Leave a Reply