Anmol Vachan  In Hindi – Top 199+ Best Anmol Vachan Hindi

By aipaisa.com Jul30,2023

यह हमें पता है कि Anmol Vachan In Hindi  हमारे जीवन की खास महत्व है। अनमोल वचन पढ़ कर के हमें एक अलग ही प्रकार की अनुभूति होती है।

अनमोल वचन एक मोटिवेशन की तरह काम करता है और यह हमारी में जोश भर देता है जिसके कारण हम किसी भी काम को बहुत ही उत्साहित आ पूर्वक करते हैं।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan In Hindi – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

अगर ऐसे में Anmol Vachan In Hindi को पढ़कर ही काम किया जाए या फिर एक अच्छे से अनमोल वचन के प्रिंट निकाल कर के हम अपने ऑफिस या अपने घरों में लगा सकते हैं। और जब भी हम इसे देखेंगे तो हमें यह एहसास होगा कि हमें अपने जीवन में अच्छा कम करना चाहिए। और फिर हम उसी के अनुसार आगे बढ़ सकते हैं।

अगर आप भी ऐसे चाहते हैं कि बहुत ही अच्छे अनमोल वचन मैं पढ़ सकूं। तो मैं आपको इस आर्टिकल के माध्यम से एक बहुत ही सुंदर सुंदर अनमोल वचन लाया हूं, जिसे पढ़कर के आप में जोश और उमंग आ जाएगा।

इसलिए आप इसमें दिए गए सभी अनमोल वचन पूरी अंत तक जरूर पढ़ें, और अपनी राय दें की कौन सी अनमोल वचन आपको सबसे अच्छी लगी कमेंट में जरूर लिखें।

Anmol Vachan in hindi

1,, हमें मन के भरोसे बैठे रहने से कुछ नहीं मिलता है।

इसकी बजाय आप कर्म करे तो अवश्य ही कुछ ना कुछ पाते रहेंगे।

इसलिए हमेशा पूरी निष्ठा के साथ कर्म करते रहिए, आज आपके द्वारा किए गए कर्म ही आपको कल सफल बनाएंगे।

2,, आप हमेशा सब कुछ नहीं पा सकते हैं।

यदि आप कुछ पाते हैं तो आपको कुछ ना कुछ खोना पड़ता है।

ऐसी में जो चीज खो गई है उसका दु:ख मनाने से बेहतर है कि,, हमेशा पाने वाली चीज का सुख मनाए।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

3,, आप ना तो इस धरती पर सबसे पहले आए थे और ना ही सबसे पीछे आए थे।

ना ही आप अभी हैं और ना ही आप आगे भविष्य में रह पाएंगे।

इसलिए प्रतिस्पर्धा करनी है तो स्वयं से कीजिए।

4,, “मान सम्मान को अर्जित किया जाता है,

उसे किसी से छीन कर प्राप्त नहीं किया जा सकता है।

5,, “अपने फोन से सेल्फी तो सभी लोग खींच लेते हैं,

लेकिन दूसरा कोई आपके साथ आ करके सेल्फी खींचे या बड़ी बात है।

6,,  “यदि आपको अपने जीवन में कुछ सीखना है।

तू पीछे क्या क्या घटित हुआ ,उसका अवलोकन करें,

अगर जीवन जीना है ,तो वर्तमान में जिए,

अगर आपको कुछ पाना है, तो भविष्य को निर्धारित करें।

7,,  “बुरे समय में पैसा काम आए, या ना आए ।

यह तो समय ही बताता है लेकिन, जोआपके साथ में है वह हमेशा आपके ही काम आएंगे।

8,, “जो करना है ,उसे आज ही कर दीजिए।

क्या पता कब जीवन आपका साथ छोड़ जाए।

9,, “यह दुनिया है और यहां सभी अपने आप को”

किसी ना किसी चीज के लिए अपने आप को सिद्ध करना चाहते हैं।

अब रीत यही है और देखते हैं आप उस रीत से हटकर क्या करते हैं।

10,, “ईश्वर सभी को समान अवसर देता है,

फिर चाहे वह राजा हो या रंक।

यह इतिहास गवाह है कि हमने राजा को रंग होते हुए देखा है और रंक को राजा होते हुए देखा है।

Anmol vachan suvichar

11,, “आप पैसा कमाने में इतना ही ना डूब जाए, की,

आप स्वयं अपनी स्वास्थ्य का ध्यान रखना ही भूल जाएं,

क्योंकि पैसा एक सीमा तक साथ निभाएगा लेकिन,

आपकी शरीर तो आपकी जीवन भर साथ निभाएगा।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

12,, “बिना परिश्रम के तो भगवान किसी को भी कुछ नहीं देता है।

अगर यदि गलती से उसे यह मिल भी जाए तो, वह ज्यादा दिनों तक टिकता नहीं है।

13,, “यदि सफलता का फल पानी है तो,

उसके लिए मेहनत की खेती तो करनी ही पड़ती है।

14,, “यदि हारने का डर मन में बनाए रखेंगे तो,

तो अपने जीवन में कभी भी सफल नहीं हो पाएंगे।

15,, “हमें ईश्वर से कभी भी बुरे समय से बचने के लिए प्रार्थना करनी चाहिए,

क्योंकि यह सब ईश्वर सभी को दिखाएगा ही दिखाएगा।

अगर जीवन में कुछ मांगना ही है ,तो प्रबल इच्छाशक्ति मांगिए।

ताकि आप उस समय को बेझिझक सामना कर सके।

16. “बुरे समय से आप इतना डरते क्यों हो,,

अगर आप ईश्वर पर भरोसा रखोगे ,तो बुरा समय आसानी से निकल जाएगा।

17.”प्रभु भक्ति का जितना आप आनंद ले सकते हो तो ले लीजिए।

क्योंकि कब प्रभु आपको दर्शन दे दे ,यह कभी भी निर्धारित नहीं है।

18. “जिस व्यक्ति का मन निर्मल और कोमल होता है,

उसकी काया कैसी हो, इसका फर्क नहीं पड़ता है।

19. “तुम स्वर्ग की कामना क्या करते हो,,

यदि आप में इच्छाशक्ति हो तो इसी धरती को,

स्वर्ग बनाते देर नहीं लगेगी।

20.  “जिस प्रकार आप अपने घर को स्वच्छ रखते हैं।

उसी प्रकार से अपने आसपास के, मुहल्ले तथा नगर को भी स्वच्छ रखने लगेंगे।

तू इस दुनिया की काया ही पलट जाएगी।

21.”यदि आपके मन में ईर्ष्या , द्वेष , लोभ आदि आई हुई है तो आप चाह कर भी अपने जीवन में सफल नहीं हो सकते हैं।

22. “अगर आप चाहे तो बहुत कुछ पा सकते हैं और अगर आप चाहे तो बहुत कुछ खो सकते हैं।

लेकिन यह तो आपको ही करना पड़ेगा कि आप इन दोनों में से क्या करना चाहते हैं।

23. “कहने के तो आप हमेशा कुछ ना कुछ कह सकते हैं, और सामने वाले को जवाब दे सकते हैं। लेकिन कभी-कभी आपकी खामोशी ज्यादा बेहतर हो सकती है।

24.  “पागल होते हैं वह लोग जो कई लोग में अपने जीवनसाथी की तलाश करते हैं, जो अनमोल होते हैं उन्हें ना तो अपनी जीवनसाथी को ढूंढने की जरूरत पड़ती है। और अगर मिल जाए तो उन्हें किसी और चीज की आज भी नहीं रहती है।

25. “अगर आप ईश्वर में विश्वास रखेंगे तो वह आपको कभी भी भटकने नहीं देगा।

26.  “परिवार में आपसी झगड़े होना आम बात है, लेकिन इन्हें इतना भी बड़ा ना बनने दे की मन में द्वेष भावना उत्पन्न होने लगे।

27. “यदि आपको किसी से भी डर लगता है तो उसके सामने जाने की बजाए, या उससे भागने की बजाए, धीरे-धीरे उसके सामना होने की आदत डालेंगे तो आपके लिए अच्छा ही रहेगा।

28. “कभी किसी का बुरा नहीं चाहने वाले लोगों के साथ भी कुछ बुरा नहीं होता है।

29. “यदि आप डॉक्टर को नहीं देखना चाहते हैं तो आपको आज से ही योग और व्यायाम शुरू कर देना चाहिए।

30. “आपके मोबाइल की शत्रुता आपके समय से है। अब देखते हैं किसकी विजय होती है। इसलिए सही उपयोग करें।

Anmol vachan in hindi for students

31. “यह तो समय समय की बात होती है कि अपनों को शत्रु के रूप में और शत्रु को अपनों के रूप में बदलने की ताकत होती है।

32. “आपका समय बुरा हो ,या अच्छा इसके लिए कभी ईश्वर को मत कोसो क्योंकि वह जो भी करता है आपके अच्छे के लिए ही करता है।

33. “इस जिंदगी को केवल कुछ कागज के टुकड़े कमाने के लिए ही ना जिए, लेकिन यह किसी के काम आ सके इसे ऐसा बनाएं।

34. “आखिर क्यों ही किसी को बुरा बोलना है,, क्या मन में कटु भावना करके मन को शांत रख सकते हैं।

35. “जो मजा अपना सुख बांटने में मिलता है। वाह मजा जल्दी से किसी और मैं आपको नहीं मिलेगा।

36.” यह तुम्हारा है यह मेरा है यह सब बातें मन में केवल मतभेद पैदा करती है। चीजों को बांटना सीखेंगे तो ज्यादा खुश रहेंगे।

37. “यदि आप अपनी जिंदगी में दु:ख और किसी और की जिंदगी में सुख देखना छोड़ देंगे, तो आपकी जिंदगी बहुत ही खुशनुमा हो जाएगी।

38. “सभी को अपने आप को साबित करने की फिक्र होती है। यह आपकी जिंदगी है कोई या कचहरी नहीं है।

39. “दोस्तों का साथ तभी तक अच्छा होता है। जब तक वह अपना ना तो गलत कामों में साथ दें, और ना ही आपको गलत काम करने के लिए प्रेरित करें।

40. “जो काम समाज की सेवा के लिए किया जाता है। उसका फल सबसे ज्यादा मिलता है। क्युकी समाज कल्याण से बड़ी कोई सेवा नहीं होती हैं।

41. “हर मनुष्य अपना असली चरित्र तब उजागर करता है। जब वह नशे में होता है। अब वह नशा, उसके रूप, धन, बल इत्यादि किसी का भी कुछ भी हो सकता है।

42. “धर्म वह होता है, जो आपको आपके उन्नति के लिए अच्छी शिक्षा दे , लोगों का परोपकार करने के लिए सिखाए। जो धर्म दूसरे को मारने, आतंक फैलाने को कहें। वह धर्म आपके लिए अधर्म के समान होता है।

43. “इस बात को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए कि इतिहास कभी भी किसी सामान्य लोगों को याद नहीं करती हैं। उसमे या तो बहुत अच्छा करने वाले या फिर बहुत बुरा करने वाले व्यक्ती ही दर्ज होते हैं।

तो दोस्तों आपको यह निर्धारित करना है कि आपको इतिहास के किस श्रेणी में अपना नाम दर्ज करना है।

44. “कुछ बड़ा करने के लिए आपका आयु बड़ी हों यह जरूरी नहीं है। आप चाहें तो एक दिन में ही वह काम करके दिखा सकते हैं।

45. “मन में मैल हो, लेकीन ऊपर से अच्छे होने का दिखावा , यह तो वही बात हो गई की, गंदगी के ऊपर किसी ने रंग डाल दिया हों।

46. “ईश्वर ने मनुष्य को बल के साथ साथ बुद्धि इस लिए दिया है। ताकि वह अपनी बल और बुद्धि से इस धरती को ही स्वर्ग बना सकें।

47. “जब आपको दर्द सहने की आदत हो जाए, तो समझ लीजिए, आप परिपक्व होते जा रहे हैं।

48.” किसी भिखारी को भीख देने के बजाए , अपने घर काम करने वाली कामवाली को ज्यादा पैसे दिए जाए, तो वह उससे बड़ा परोपकार के बराबर होती है।

49. “अगर आप किसी भी कार्य को भीख देकर अप्रत्यक्ष रूप से उनका अपमान कर रहे हैं जो किसी भी स्थिती में रोटी कमा कर ही खाते हैं।

50. ” किस व्यक्ती से किस लहज़े में बात किया जाए। यह आपके चरित्र पर निर्भर करता है। लेकीन किस व्यक्ती से किस तरह बात किया जाए, यह उस समाने वाले व्यक्ती पर निर्भर करता है।

Anmol vachan hindi

51. “फूलों को भी उसकी अपनी नियत का पता नहीं होता है कि वह आज भगवान के ऊपर चढ़ेगा। या फिर वह आज किसी मृत व्यक्ति के मैय्यत पर। तो आप हमेशा अपना काम कीजिए, ईश्वर आपको अपने आप उसका फल उच्चित देगा।

52.”किसी को माफ न करके आप ख़ुद को ही दु:खी कर रहे हैं। क्युकी इससे वह बात आपको भी दुःख ही देगा। इससे अच्छा है कि आप उसे माफ कर दीजिए। और अपने जीवन में आगे बढ़ जाइए।

53.”आप अपने मुख से जो भी बोले उसे सोच समझकर ही बोले,, क्युकी जो शब्द मुंह से निकल जाए। उन्हें वापस नहीं लिया जा सकता है।

54. “आप अपने जीवन में उसी व्यक्ति को महत्व दीजिए, जो आपके साथ सुख और दुःख दोनों में खड़ा दिखाई दे।

55. “आप यह मत सोचिए कि आपके बुरे समय में सब काम आ जाएंगे,, क्योंकि बुरे समय में सभी लोग आपके साथ छोड़ ही जाते हैं।

56. “बहुत लोग तब तक नहीं समझते हैं, जब तक की उन्हें किसी अपने से ठोकर ना लग जाए।

57.”आपके माता-पिता जो आपको सीख देते हैं वह जिंदगी में कभी भी आपको धोखा नहीं देंगे। बल्कि वही आपके जीवन में आपके आगे के मार्ग को सुगम बनाएंगे।

58. “माना कि आपके सामने वाले में बहुत सारा दोष है, लेकिन क्या आपने कभी अपने अंदर जाकर देखा है कि आप क्या गलत कर रहे होते होंगे।

59. अपने मन में बुरी बात को हमेशा याद रखने की बजाए। उसे उसी वक्त भुला दिया जाए तो, तो जीवन की आधी समस्या तो यूं ही समाप्त हो जाएगी।

60. “जब आप अपने मन में हमेशा अच्छे भाव रखेंगे तो सामने वाला भी आप से प्रभावित हुए बिना नहीं रह पाएगा।

61. “क्रोध करके आप अपने जीवन में कुछ अच्छा नहीं कर रहे हैं, बल्कि दूसरों के सामने अपनी छवि की ही नकारात्मक बना रहे हैं।

62. “पहली बार किसी से झूठ बोलना आसान होता है, लेकीन बाद में चलकर यह हमेशा कष्ट ही देता है। लेकीन सत्य पहली बार किसी को थोड़ा कष्ट दे सकता है, लेकीन बाद में चलकर यह आपको आराम ही आराम देगा।

63. ” सभी का साथ पाना लगभग नामुमकिन होता है। क्योंकि आप एक ही समय में सभी को खुश नहीं कर सकते हैं।

64. “यदि आपको किसी काम के लिए सजा मिल रही है तो, अवश्य ही आपसे कोई ना कोई अपराध तो हुआ ही होगा।

65. “आज बुरा तो हर मनुष्य है कोई व्यक्ति किसी के लिए बुरा है तो कोई व्यक्ति किसी दूसरे के लिए बुरा है, इसलिए आप भी किसी व्यक्ति के लिए अच्छे ना बन जाए यह संभव नहीं है।

66. “जरा संभल के यह कलयुग है और इसमें बुराई बहुत ज्यादा चल रही है। ऐसे में यदि आप कुछ सत्कर्म कर देंगे तो क्या ही बुरा हो जाएगा।

67. “उस समय और जीवन का आपके जीवन में क्या ही काम जो आपके परिवार और आपके समाज के काम नहीं आ सके।

68. “अभी आपके माता-पिता की बातें कही हुई आपको अच्छी नहीं लगती होगी, लेकिन ले जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती जाएगी । वैसे – वैसे आपको यह एहसास होते जाएगा कि हमारे माता-पिता हमारे लिए अच्छी बातें कह रहे थे।

69. “आप अपने जीवन में इस बात का जरूर ध्यान रखिए कि, यदि आप कोई बुरा कर्म करते हैं तो, तो आप केवल अपना ही नहीं ,बल्कि अपने माता-पिता का भी नाम खराब कर रहे हो।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

70. “आपके आज का ही दिन आपके आने वाले कल के दिन का निर्धारित करता है। इसलिए आप जो भी कर रहे हैं उसे अपने भविष्य को ध्यान में रखकर के कीजिए।

71. “आजकल बहुत सारे लोग एक ही चेहरे पर कई चेहरे लेते हुए घूम रहे हैं ,लोग तभी इस दुनिया में आबादी बढ़ते ही चले जा रही है।

72. “किसी व्यक्ति को धोखा देना उतना ही सरल होता है। जितना कि किसी का भरोसा जीतना।

73. “आप पानी को जितना भी गर्म कर ले ,लेकिन बाद में वह अपने मूल स्वभाव में जरूर आज ही जाएगा। लेकिन आप अपने जीवन में कितना भी क्रोध क्यों न कर लें, आप का मूल सिद्धांत शांत रहना ही होता है।

74. “आप अपने मन को जितना भी शांत रखेंगे आपकी जीवन उतना ही सरल और सुगम होती चली जाएगी।

75. “यदि कोई मनुष्य आपसे पूछे कि आपके साथ कौन-कौन है, तो उनसे एक ही बात कह देना कि यदि समय सही है तो सभी हमारे साथ हैं और समय बुरा है तो कोई हमारे साथ नहीं है।

76. “आप अपने दोनों हाथों से कई लोगों को एक साथ पराजित नहीं कर सकते हैं। लेकिन आप अपने दोनों हाथों को जोड़कर कई लोगों को एक साथ खुश जरूर कर सकते हैं।

77. “यदि हर मनुष्य का भाग उसकी मां के द्वारा लिखा जाता ,तो शायद ही उसके जीवन में किसी तरह का दुख आ पाता ।

78. “हमें कुछ पाने के लिए किसी ना किसी चीज का त्याग करना ही पड़ता है। अन्यथा वह चीज नहीं पाई जा सकती है।

79. “यदि अपनी जिंदगी को काटने के बजाय अच्छी तरह से जिया जाए तो वह बहुत ही खूबसूरत बन जाती हैं।

80. “ईश्वर ने हमें जीवन बहुत लंबा दिया है इसलिए उसमें से कुछ अच्छे से समय में बीतेंगे ,और कुछ बुरे वक्त में भी बीतेंगे। तभी तो उन्हें अलग-अलग दिनों के नाम से जाना जाता है।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

81. “आपको अपनी जिंदगी के ज्यादातर महंगे सबक सस्ते लोग ही सिखा करके जाएंगे।

82.” सभी का अपना अपना सम्मानीय की बात होती है जिस प्रकार बाकी लोग आपकी सम्मानीय करते हैं आप भी उसी प्रकार उनके सम्मान कर सकते हैं ।

83. “यदि कोई व्यक्ति आपकी बात को महत्व नहीं देता है। तो आप भी उस व्यक्ति की बात को इतना महत्त्व मत दीजिए।

84. “जहां आपकी बात को महत्व नहीं दी जाती है वहां आपको बैठने से कोई अंतर नहीं पड़ेगा इससे बेहतर है कि आप वहां से हट जाइए।

85. “जिस प्रकार से चाय अगर ठंडा हो जाए तो उसे गर्म कर देने के बाद से उसमें उस तरह की सुगंध और स्वाद नहीं रह जाती है। उसी प्रकार रिश्तों में दरार पड़ जाने के बाद उसे कितना भी सहेज लिया जाए। वह वैसा कभी नहीं रह पाएगा।

86. “यदि आप दूसरों के समक्ष शिकायते काम करेगें। और उनको धन्यवाद ज्यादा करेगें, तो अवश्य ही आपका जीवन सरल हो जायेगा।

87.” आप जितना ही जल्दी समय की महत्व को समझ जायेंगे। आपका अपनी मंजिल उतना ही जल्दी पास चली आएगी।

88. “जीवन में सीखने को तो बहुत कुछ मिल जाएगा। लेकीन एक बार आप अपने भूतकाल का सही से आकलन तो करके देख लीजिए।

89. ” किसी दूसरे का छीनकर पाया गया धन कभी भी आपके उच्चित काम नहीं आएगा।

90. “अपने जीवन में कुछ पाने के लिए यदि किसी का बूरा करना चाहेंगे, तो याद रहे ईश्वर आपके साथ भी कुछ अच्छा नहीं होने देगा।

91. ” यदि कोई व्यक्ति जरूरत से ज्यादा आपसे मीठा बोल कर बात कर रहा है। तो अवश्य ही दाल में कुछ काला होगा।

92. “अगर कोई भी आपको छोड़ गया है , तो आप उस पर पछताना छोड़ दीजिए। बल्की आप कुछ ऐसा कीजिए। जिससे आपको उसे छोड़ने का पछतावा होने लगें।

93. “जहां तक की रास्ता आपको दिखाई दे रहे हैं। वहा तक तो तुम चलो। अब उसके आगे का रास्ता आपको वहा पर पहुंच कर दिख जाएगा।

94. “की”कुछ मजबूत रिश्ते खामोशी में बिखर जाते हैं। मगर किसी को उनका अहसास भी नहीं होता है।

95. “अपना रिश्ता सभी के साथ इतना मधुर बना लो की, लोग आपको खोने मात्र के विचार से ही डर जाए।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

96. “अगर कोई आपकी बात को समझ नहीं पा रहा है तो उसे बार बार समझाने में अपनी ऊर्जा व्यर्थ में न गवाएं।

97. “जो चीज लड़ाई से समझाई जाती हैं। वह हमेशा द्वेष पैदा करती हैं। बल्की जो बात अपनेपन से समझाई जाए, वह बात भी बन जाती हैं। और उसमें कोई ड्रेस भी नहीं रहता।

98. “आप अपने आप को इतना शांत बनाओ की सामने वाला क्रोध में होने के बावजूद भी आपको देखकर क्या वह शांत हो जाए।

99. “भगवान की मूर्ति के टूट जाने पर उसे लोग उसे अपने घर से बाहर कर देते हैं। तो फिर आप के टूटने का तो हक ही नहीं बनता है।

100. “रिश्तो के धागे बहुत ही नाजुक होते हैं, इन्हें उसी तरह संभाला जाता है। जिस प्रकार आप एक नवजात शिशु को संभालते हैं।

Anmol vachan दिल को छूने वाली बातें

101. “यदि आप दूसरों की निंदा सुन कर के घबरा जाएंगे तो फिर आपकी और निंदा होगी। वहीं यदि आप कुछ पा लेंगे तो वही निंदा करने वाले आपके लिए शुभ बातें बोलेंगे।

102. “दोस्तों दूसरों को तो अपना बनाया जा सकता है। लेकिन जो अपने हैं उन्हें अपना बनाए रखना बहुत ही मुश्किल होता है।

103. “यदि रास्ता दिखने में अच्छा लग रहा है ,तो आप यह पहले ही पता कर लीजिए कि वह किस मंजिल को जाता है। लेकिन अगर मंजिल सही हो तो आप रास्ते की चिंता ना कर के केवल आगे बढ़ते रहो।

104. “यदि आपको खुद पर ही विश्वास नहीं हो तो, आप दूसरों से कैसे इसकी अपेक्षा रख सकते हैं।

105. “यदि आप चाहते हैं कि आपके अंदर सूरज की जैसी चमक हो तो पहले आप को सूरज के जैसे चलना पड़ेगा।

106. “यदि आपकी किसी एक झूठ से किसी बेगुनाह व्यक्ति की भला हो तो या झूठ सत्य से भी बड़ा बन जाता है।

107. “हमेशा ईश्वर से मांगने हैं ,क्यों जाते हैं कभी उनसे मिलने भी जाया कीजिए

108. “ऐसे आपको बहुत से लोग मिल जाएंगे जो केवल ईश्वर का नाम अपने स्वार्थ के लिए ही लेते हैं।

109. “जो व्यक्ति अपने प्यार के लिए अपने माता-पिता को धोखा दे सकता है। वह आगे चलकर अपने प्यार को भी धोखा देने में नहीं हिचकिचाएगा।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

110. “क्रोध और आधी तब आते हैं, तो यह बहुत तेज आते हैं, लेकिन इनके शांत होने के बाद ही पता चलता है कि वे दोनों क्या नुकसान करके गए हैं।

111. “जब तक लोगों को आपसे काम होगा। तब तक ही वे आपसे काम रखेंगे। उसके बाद तो वह दूर से ही आपसे सलाम और दुआ करके चले जाएंगे।

112. “आपको दूसरों के बारे में उतना ही बोलना चाहिए, जितना आप खुद के बारे में सुन सकते हो।

113. “जब भी आप आसमान की ऊंचाइयों तक पहुंच जाएंगे, तो याद रखना , उस समय जरूर कोई ना कोई आपके पंख काटने के लिए आएगा।

114. “अपने अच्छे समय में आप दूसरों के साथ कैसे व्यवहार कर रहे हैं। वह यह निर्धारित करेगा कि दूसरे आपके बुरे समय में आपके साथ किस प्रकार की व्यवहार करने वाले हैं।

115. “आप जीवन का अपने असली सबक खाली पेट और खाली जेब के वक्त ही सिखा सकती है।

116. “कुछ कर्मों की सजा आपको कानून नहीं दे सकता है। उनकी फैसला तो ईश्वर की अदालत में ही होता है।

117. “आप इतना भी ऊपर मत ऊड़ो की कोई आप को संभालने तक ना आ पाए।

118. “आप दूसरों से जो अलग कर रहे हैं।, वही तो आपकी पहचान बनाने का काम करेगा।

119. “आप इस दुनिया के लिए चाहे कितना भी कुछ कर ले, दुनिया फिर भी उसे कम करके ही आकेंगी, इसलिए वह करे जो आपका मन करे, और ना कि यह जो दुनिया कहें।

120. “हर इंसान को अपनी पसंद को बदलते देर नहीं लगती है। इसलिए हमेशा दिल सही भी नहीं होता है, तो कुछ नहीं ला दिमाग से भी लिया जाना चाहिए।

121. “अनुमान गलत हो सकता है, लेकीन अनुभव कभी गलत नहीं होता। क्योंकि अनुमान हमारे मन की कल्पना होती हैं। तथा अनुभव हमारे जीवन की सीख होती हैं।

122. “भगवान पर हमेशा भरोसा रखने वाले को बूरा समय भी अच्छे से निकल जाता हैं।

123. “उधार हमेशा सोच समझकर दीजिए क्योंकि, बाद में अपने ही पैसे भिखारियों की तरह मांगना पड़ेगा। और रिश्ता भी खराब हो जाएगी।

124. “दूसरो में अक्सर कमियां निकालते हैं हम लोग, लेकीन मजाल है कि क्या कभी आईने में देखकर खुद के बारे मे नहीं सोचते।

125. “धीरे ही सही मगर हमेशा बढ़ते रहे, क्योंकि एक समय के बाद रुका हुआ पानी भी सड़ने लगता हैं।

126. ” जो लोग आपसे दूर होना चाहते हैं। वो लोग अक्सर सारा दोष हालातों पर टाल देते हैं।

127. ” अपने अच्छे दिनों में कभी भी उन लोगों को नहीं भूलना चाहिए, जिन्होंने बुरे समय में आपका साथ दिया था।

128. “अगर आपके खाने में कोई जहर घोल दे तो, एक बार के लिए उसका इलाज संभव है। लेकीन कान में कोई जहर घोल दे, तो उसका कोई इलाज नहीं है।

129. “वह दुनियां की हर तकलीफ आपकी हिम्मत के आगे, घुटने टेक देती हैं।

130. “इस संसार में हर कोई किसी ना किसी मतलब से ही आपका साथ देता है। जो लोग अपने होने का सबसे ज्यादा हक जताते हैं। अक्सर वही लोग सबसे पहले धोखा देते हैं।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

131. ” एक अच्छा इंसान हमेशा अपनी मीठी जुबान के लिए जाना जाता हैं। वरना अच्छी बातें तो किताबों में भी लिखी होती हैं।

132. “आपके जीवन में तकदीर और फकीर इन दोनों का क्या पता नहीं आपकी जीवन से क्या ले जाए, और कब क्या दे जाए।

133 .” कुएं में डाली गई बाल्टी तभी भरती है जब उसे थोड़ा झुकाया जाए, और जिंदगी का नियम भी यही है जो झुकता है वही पाता है ।

134. “कड़वा सच “लोग आपके बारे में जब अच्छा सुनते हैं तो वह शक करते हैं, और बुरा सुनने पर तुरंत यकीन कर लेते हैं।

135. “जब लोगों की कड़ी बातें आपको मीठी लगने लगे, और दु:ख के बाद भी आप मुस्कुराना सीख ले, तो समझ लीजिए आपको जीवन जीना आ गया है।

136. “जब तक हम इस बात को समझ पाते हैं कि जिंदगी में क्या है, तब तक तो आधी उम्र ही निकल जाती है।

137. “अपने लिए सम्मान छीन कर नहीं पाया जा सकता है ,बल्कि उसे अच्छे कर्मों और स्वभाव द्वारा हासिल किया जाता है।

138. “मुझसे किसी ने पूछा”तुम्हें कोई अपना छोड़ कर के चला जाए तो तुम क्या करोगे, इस बात पर किसी ने बहुत ही खूबसूरत जवाब दिया है, अपने लोग कभी छोड़कर के नहीं जाते हैं और जो छोड़ करके जाते हैं वह अपने लोग नहीं होते हैं।

139. “किसी ने यह एक बहुत अच्छी बात कही है,, कि आपका खुश रहना है, आपको बुरा चाहने वालों के लिए सबसे बड़ी सजा है,इसलिए हमेशा खुश रहिए ताकि वह जलते रहे।

140 . ” कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है, इसलिए तुम खोने की हिम्मत और पाने की खुशी रखो।

141 .”जिंदगी तो उसी की है जिसकी मौत पर पूरी जमाना रो, दे , वरना यहां पैदा तो हर कोई मरने के लिए ही होता है।

142. “जब तक हारने का डर तुम्हारे मन में रहेगा, तब तक आप अपनी जिंदगी में कभी जीत नहीं पाएंगे।

143. “हमारे अंदर धैर्य होना बहुत ही जरूरी है, इस बात को याद रखें की बूंद बूंद से घड़ा भरता है।

144. “जिंदगी में चुनौतियां हर किसी के हिस्से में नहीं आती है। किस्मत भी किस्मत वालों को ही आजमाती है ।

145. “पीठ पीछे बोलने वाले को पीछे ही रहने दो, अगर आपके कर्म इरादे और नियत सही है तो, आपको गैरों से भी अपनापन मिलता रहेगा।

146. “किसी की मदद करने के लिए केवल धन की जरूरत नहीं होती, बल्कि उसके लिए एक अच्छे मन की भी आवश्यकता होती है।

147. “मेहनत से कमाया गया ,पैसा हमेशा लंबे समय तक के लिए टिकता है।

148. “मुश्किल समय में समझदार व्यक्ति रास्ता खोजता है, और कायर व्यक्ति हमेशा बहाना खुलता है।

149 .”सफल होने के लिए बार-बार ने काम करने की जरूरत नहीं होती । बल्कि काम को नए तरीके से करने की जरूरत होती है।

150. “अगर हीरे की तरह काबिलियत रखते हो तो, अंधेरी में भी चमकना सीखो । रोशनी के सहारे तो कांच भी चमकता है।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

151. “मरने के बाद आपको स्वर्ग ही मिल जाए यह जरूरी नहीं, लेकिन आप अपने कर्मों से स्वर्ग आप यहीं पर बना सकते हैं।

152 .” आपकी जिंदगी कब तक है कोई नहीं जानता, इसलिए जो करना चाहते हो उसकी शुरुआत आज से ही कर लो।

153. “डर हमेशा आप को गुलाम बना करके रखेगा, लेकिन खुले विचार आप को बादशाह की तरह जीना सिखाएगा।

154. “बुरे समय में आपके बैंक में रखे पैसों से ज्यादा आपके अपने ही काम आते हैं।

155. “किसी भी इंसान की नियत अच्छी होनी चाहिए, सूरत तो ब्यूटी पार्लर वाले भी अच्छे कर देते हैं।

156. ” दूसरे के भरोसे बैठे रहने से कुछ नहीं हासिल होता है, जब तक आप खुद कर्म नहीं करोगे ,तब तक आपको फल नहीं मिलेगा।

157. “आपकी जेब भरी हो तो दुनिया आपकी औकात देखती है, और जब खाली हो तो दुनिया  अपनी औकात दिखा देती है।

158. “कमजोर इंसान मुसीबतों से नहीं बल्कि खुद से ही वह हार जाता है

159. “जब आप अपने रिश्तो के लिए वक्त निकालना छोड़ देते हैं, तो वक्त भी आपके जिंदगी से रिश्ते ही निकाल देता है।

160.”अहंकार सिर्फ आपको आपकी नजर से ही ऊपर उठाता है। लेकिन आप दूसरों की नजर में बहुत ही गिर चुके होते हैं।

161 .”घमंड एक ऐसा हथियार है, जो स्वयं आपका ही नुकसान पहुंचा है।

162. “अहंकार के साथ जीने वाला व्यक्ति ,हमेशा ज्यादा दिनों तक जी नहीं पाता है।

163. “घमंड जब सर पर चढ़ जाता है, तो इंसान अपनी औकात को ही भूल जाता है।

164 .”घमंड चाहे दौलत का हो या फिर ताकत का, एक दिन वह चूर-चूर तो हो ही जाता है।

165 .”तुम अपने अंदर के घमंड को निकाल कर के खुद को हल्का करो। क्योंकि ऊंचाई तक वही चीज पहुंचती है जो हल्की होती है।

166. “घमंड कभी सच को स्वीकार करने नहीं देता है। और सच को जानने वाला कभी घमंड नहीं करता है।

167 .”समय का चक्र बहुत ही तेज चलता है। इसलिए ना तो अपने बल का अहंकार करें और ना ही अपने पास उपस्थित धन का।

168 . “इस दुनिया में घमंड किसी का नहीं रहा”घर में रखें गुल्लक को भी लगता है कि सारे पैसे उसी के हैं, लेकिन टूटने पर वह बिखर जाता है।

169 .”प्रेम में वह शक्ति है, जो किसी से भी नामुमकिन कार्य को भी करवा सकता है।

170. “जिस व्यक्ति के अंदर प्रेम होता है, उसका मन हमेशा प्रसन्न रहता है चाहे कितनी भी कठिनाई क्यों ना हो।

171. “अगर दिल में इज्जत और रिश्तो में प्यार हो तो, हौसले हमेशा हालातों पर भारी पड़ती है।

172. “नफरत इंसान को इंसान से हमेशा अलग ही कर देती है”लेकिन प्रेम उन्हें हमेशा आपस में जोड़े रहता है।

173. “जिस मनुष्य के अंदर प्रेम की भावना होती है वह हमेशा दूसरे से मिलजुल कर के रहते हैं।

174. “प्रेम की भावना मनुष्य को कभी हारने  नहीं देती, मगर घृणा की भावना उसे कभी जिंदगी में जितने नहीं देती।

175 .”आप जितना ज्यादा आलस करोगे, अपनी सफलता से उतना ही दूर होते जाओगे ।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

176 .”इस दुनिया को अक्सर वही लोग बदलते हैं,, जिन्हें लोग नालायक कहते हैं।

177 .” जिस तरह बिना बीज बोए फसल नहीं उगती है । उसी तरह बिना कर्म के सफलता भी नहीं मिलती है।

178 .”हमारे जीवन में सबसे ज्यादा मजा उसी काम को पूरा करने में आता है। जिसके लिए लोग कहते हैं, कि तुम यह कभी नहीं कर सकते हो।

179 .”अपनी हार से जो सबक लेता है ,उसे जिंदगी में जीतने से कोई नहीं रोक सकता है।

180. “अगर तुम किसी कार्य को पूरी सच्ची निष्ठा के साथ करते हो ,तो उस कार्य में तुम अवश्य ही सफल हो जाओगे।

181 .”अकेले चलने वाले लोग हमेशा घमंडी नहीं होते हैं, बल्कि वह हर काम के लिए अकेले ही काफी होते हैं।

182. “तुम भगवान पर विश्वास बिल्कुल उस बच्चे की तरह किया करो, जिसको तुम हवा में उठा लो तो वह हंसता है रोता नहीं। क्योंकि उसे पता है कि भगवान आपको कभी गिरने नहीं देंगे।

183. “मनचाहा पाने के लिए चाहना भी मन से पड़ता है।

184.”दुनिया में सबसे सफल इंसान वही है”जिसे रूठे हुए इंसान को मनाना और टूटे हुए इंसान को बनाना आता है।

185. “परेशानी से जो अनुभव और सीख मिलती है। वह सीख दुनिया का कोई भी स्कूल नहीं दे सकते हैं।

186. “अगर इंसान सच्चा होगा तो,, उसके साथ सबकुछ अच्छा होगा।

187. “जिस तरह पतझड़ के बिना पेड़ पर नए नए पत्ते नहीं आते, ठीक उसी तरह कठिनाई और संघर्ष के बिना, अच्छे दिन भी नहीं आते हैं।

188 .”वृद्ध पुरुष अतीत में जीता है इसलिए वह निराश रहता है। युवा भविष्य जीता है इसलिए वह निराश रहता है। लेकिन एक बच्चा वर्तमान में जीता है, इसलिए वह सदैव खुश रहता है।

189.” परमात्मा कभी भी किसी का भाग्य नहीं लिखता है जीवन की हर सोच पर हमारे कर्म, हमारे व्यवहार और हमारी सोच ही हमारी भाग्य लिखते हैं।

190. “अच्छाई के पीछे कोई नहीं जाता,, बुराई के पीछे सभी लोग जाते हैं,, शराब बेचने वाला कहीं नहीं चाहता,, लेकिन दूध बेचने वाले को गली-गली जाना पड़ता है।

191. “जीवन की इस यात्रा में आपको दूसरों से ज्यादा अपने आपको ज्यादा जरूरत होती है।

192 .”हम जिंदगी में हमेशा ऐसे लोगों को पसंद करो ,, जिनका दिल चेहरे से ज्यादा खूबसूरत होता है

193 .”आपको आपके जिंदगी में जब भी लगेगी सब कुछ अब खत्म हो गया। अब आपके पास कोई भी ऑप्शन नहीं बचा। तो इस बात का जरूर याद रखना कि यह वही पल है। जहां पर तुम्हारी जिंदगी एक नया मोड़ लेने वाली है।

194. “अपने अंदर अहंकार मत पालिए साहब,, वक्त के समंदर में कई सिकंदर डूब चुके हैं।

195. “किसी का सरल स्वभाव उसकी कमजोरी नहीं होती””बल्कि उसके माता-पिता के द्वारा दिए हुए संस्कार होते हैं।

196. “जमीर हमेशा सच्चाई से महकते  रहना चाहिए, क्योंकि कागज के फूलों पर तितलियां कभी नहीं बैठा करती है।

197. “अपने जीवन की तुलना किसी और के साथ नहीं करनी चाहिए। सूर्य और चंद्रमा के बीच कोई तुलना नहीं है,, जब जिसका वक्त आता है वह चमकता है।

198. “ऊंचाई पर वही लोग पहुंचते हैं जो प्रतिरोध की बजाय परिवर्तन की बात सोचते हैं।

199. “हालात हर व्यक्ति को सिखा देती है सुनना और सहना, वरना, हर इंसान अपने आप में बादशाह होता है।

200. “जिंदगी छोटी नहीं होती है,, लोग उसे जीना ही देरी से शुरू करते हैं,, जब तक रास्ते समझ में आते हैं,, तब तक लौटने का वक़्त हो जाता है,, बस यही जिंदगी है,,

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

Rishte anmol vachan

201. “पृथ्वी पर उपस्थित सभी इंसान को भगवान एक ही मिट्टी से बनाते हैं। बस फर्क इतना है कि,,, कोई बाहर से खूबसूरत होता है तो कोई भीतर से,,

202. “आप पर लगाए गए गलत आरोपों को लेकर के चिंतित मत रहिए,, बल्कि उसका सामना कीजिए और याद रखिए,,,, समय का ग्रहण तो भगवान सूर्य और चंद्रमा  भी सहते हैं,,

203. “अगर तुम किसी को दिल से चाहो और अगर तुम्हारी वह कदर ना करे तो,,, यह उसकी बदनसीबी है तुम्हारी नहीं।

204..”मनुष्य के जन्म लेने पर मिठाई से बांटने वाला शुरू हुआ यह जिंदगी,, का खेल श्राद्ध पर आने वाली खीर पर जा करके खत्म हो जाती है।

यही जीवन का मिठास है, और बड़े ही दुर्भाग्य की बात है,, कि आदमी इन दोनों मौके पर इन दोनों चीजों को नहीं खा सकता है।

205. “गरीबों में हमेशा अच्छा वक्त आने की उम्मीद बनी रहती है,,,, लेकिन अमीरों को हमेशा बुरा वक्त आने का खौफ बना रहता है।

206. “अगर एक इंसान आपको एक ही सबक दो बार सिखाए है तो, तो गलती उस इंसान के नहीं आपकी है।जनाब ।

207 . “दु:ख और सुख भगवान के द्वारा बनाई गई वह प्रयोगशाला है । जहां पर आप की काबिलियत और विश्वास को परखा जाता है।

208. “कर्म करो तो फल मिलता है,, आज नहीं तो कल मिलता है,, जितना ही अधिक गहरा कुआं हो ,,उतना ही मीठा जल मिलता है,, जीवन के हर कठिन प्रश्न का उत्तर जीवन से ही हल मिलता है ।

209. “अगर आप सब कुछ एक ही समय पर हासिल नहीं कर सकते,, प्यार मिलेगा तो पैसा नहीं,, पैसा मिलेगा तो वक्त नहीं,, और वक्त मिलेगा तो प्यार नहीं,, कुछ ना कुछ तो कमी रह जाएगी।

210. “हर बुरे वक्त की एक खासियत यह भी होती है कि,, आपको वह लोग भी सलाह देने लगते हैं,, जो खुद किसी के काबिल नहीं होते हैं।

211.”चुप रहने से बड़ा कोई जवाब नहीं,, और माफ कर देने से बड़ी कोई सजा नहीं होती है।

212.”यदि आप सही है तो कुछ भी साबित करने की कोशिश मत करो बस साबित बने रहो,, वक्त आपकी गवाही खुद ही दे देगा।।

213. “जब इंसान जन्म लेता है तो उसके पास सांसे तो होती है,,, पर कोई नाम नहीं होता,, और जब मनुष्य की मृत्यु होती है। तो उसके पास नाम तो होता है पर सांसे नहीं होती,,

सांसों के और नाम के बीच के इस यात्रा को ही जीवन कहते हैं। इसलिए आप ना किसी के अभाव में जियो और ना किसी के प्रभाव में जियो,, यह जिंदगी है आपकी आप अपनी स्वभाव में जियो ।

214. “यदि आप अच्छे हैं तो उसे जताई मत। जंगल का राजा कभी यह नहीं बोलता कि वह राजा है। वह बस अपना काम करता है।

215.”उस व्यक्ति को समझना बहुत ही मुश्किल काम है,, जो जानता तो सब कुछ है,, पर बोलता कुछ भी नहीं,,

216. “तुम बातें नहीं काम बड़े किया करो,, क्योंकि लोगों को सुनाई कम और दिखाई ज्यादा देता है।

217 .”अगर तुम उस वक्त मुस्कुरा सकते हो,,, जब तुम पूरी तरह टूट चुके हो तो,,, तो तुम अपने आप पर यह यकीन कर लो कि तुम्हें दुनिया में कोई भी तोड़ नहीं सकता।

218. “तजुर्बा हर इंसान को गलत फैसलों से बचाता है,,, लेकिन तजुर्बा हमेशा गलत फैसलों से ही आता है,,

219. “त्याग के बिना कुछ भी पाना संभव नहीं है,,, क्योंकि मनुष्य को सांस लेने के लिए भी पहले सांस को छोड़नी पड़ती है।

220. “अगर कोई आपके रास्ते में गड्ढा खोदे तो परेशान मत होना,,, यह वही लोग हैं जो आपको छलांग लगाना सिखाएंगे।

221.”आप बस खुश रहना सीखिए बाकी सब चलता रहेगा,,, कोई अपना बिछड़ता रहेगा और कोई पराया मिलता,, रहेगा।

222. “दुनिया आपकी विरोध करे तो डरना मत क्योंकि,,, जिस पेड़ पर फल लगते हैं, दुनिया उसे ही पत्थर मारती है।

223. “मेहनत का फल और समस्या का हल तो भगवान देगा।, तुम यह मत सोचो कि कब देगा जब देगा तो वह सब कुछ देगा,,,

224. “अगर आप मदद मांगने जाओ तो डालते हैं सब लोग,,, बात पता चल जाए तो उछलते हैं सब लोग,,, बताना मत किसी को तुम अपने घर का सब हाल ,,, यह दोस्त हमेशा मौके का फायदा उठाते हैं लोग,,,

225. “नदी का पानी मीठा है क्योंकि वह पानी देती रहती है,, समुंद्र का पानी खारा होता है क्योंकि वह हमेशा लेता रहता है,,, नाली का पानी हमेशा दुर्गंध देता है क्योंकि वह हमेशा रुका रहता है,, बस यही जिंदगी है अगर तुम देते रहोगे ,तो तुम सबको मीठे लगोगे,,, अगर तुम देना बंद कर दिए तो तुम सबको सब के बेकार लगोगे,,,,

226.” खुद को परिश्रम से जोड़ दो,, और बाकी सब ईश्वर पर छोड़ दो,,

227. “बर्तन खाली हो तो यह मत समझो कि वह मांगने चला है,, यह भी हो सकता है कि वह सब कुछ बांट कर आ रहा हो ।

Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi
Anmol Vachan – Top 200+ Best Anmol Vachan Suvichar in Hindi– Anmol Vachan in Hindi

228. “पैसे के पास तो जुबान तो नहीं है,,,, पर वह बोलता बहुत कुछ है।

229. “हारता वही है जो शिकायत बार-बार करता है, और जीतता वही है जो कोशिश हजार बार करता है।

230. “अमीर वह व्यक्ति होता है,,,, जिसके पास सबसे ज्यादा वह चीजें हो,,, जो पैसे से नहीं खरीदी जा सकती है।

Please don’t readable 

Anmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol VachanAnmol Vachan

Related Post

Leave a Reply